Sunday, June 26, 2022
HomeTrending Newsकाशी विश्वनाथ कॉरिडोर की जांच हो तो BJP के कई मंत्री-MLA जेल...

काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की जांच हो तो BJP के कई मंत्री-MLA जेल चले जाएंगे: ओमप्रकाश राजभर

[ad_1]

स्टोरी हाइलाइट्स

  • “भाजपा खुद को भी करा ले गेरुआ, मोदी की डिग्री सही नहीं”
  • CDS बिपिन रावत की मौत की हो उच्च स्तरीय जांच

‘काशी विश्वनाथ कॉरिडोर निर्माण की भी जांच होगी तो न जाने कितने मंत्री और विधायक जेल चले जाएंगे’, यह आरोप सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और योगी सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री ओपी राजभर (Omprakash Rajbhar) ने लगाया है. वाराणसी के सर्किट हाउस में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि विश्वनाथ कॉरिडोर में फर्जी बैनामा कराकर भाजपा वालों ने पैसे ले लिए हैं.

ओपी राजभर (Omprakash Rajbhar) ने विश्वनाथ धाम या कॉरिडोर बनाने पर कहा कि 100 प्रतिशत पैसों का गलत इस्तेमाल हुआ है. यह मोदी का नहीं, देश की जनता का पैसा है. यह पैसा शिक्षा में लगाते, लेकिन यह पैसा कुंभ में लगाएंगे.  देश के टैक्स के पैसे का गलत उपयोग योगी-मोदी कर रहे हैं. सरकारी बस और कर्मचारियों को लाकर रैली कर रहे हैं. इनको कोई आदमी ही नहीं मिल रहे हैं.

‘राजभर बोलेः भाजपा नाम और रंग बदलने में माहिर है’

विश्वनाथ कॉरिडोर जाने के सवाल के जवाब में ओपी राजभर (Omprakash Rajbhar) ने कहा कि मेरा घर बनारस में ही है. अक्सर दर्शन करने जाते रहते हैं. कॉरिडोर बन जाने से क्या हुआ, क्या भगवान बदल गए. अखिलेश को कॉरिडोर घुमाने के जवाब में कहा कि जब भगवान बुलाएंगे तो चले जाएंगे. विश्वनाथ कॉरिडोर की जगह मोदी कॉरिडोर कहे जाने के सवाल के जवाब में ओपी राजभर ने कहा कि भाजपा नाम और रंग बदलने में माहिर है. अखिलेश यादव ने 100 नंबर की गाड़ी मंगाई और ये सब 112 कर दिए. देश के टैक्स के पैसे से कॉरिडोर का निर्माण हुआ है.

वाराणसी में मस्जिद से लेकर कांग्रेस कार्यालय तक को गेरुआ करने के सवाल पर ओपी राजभर ने कहा कि भाजपा वाले पहले अपने आप को ही गेरुआ कर लें. उन्होंने कहा कि जनता का ध्यान महंगाई, कुशासन और बेरोजगारी से भटकाने के लिए ये सब कर रहे हैं. 

पीएम मोदी पर साधा निशाना

एक सवाल के जवाब में ओपी राजभर ने पीएम मोदी पर बेतुका बयान दिया. उन्होंने कहा, ”हमारे देश के पीएम की डिग्री के बारे में गृहमंत्री को आकर बताना पड़ता है, हम 15 साल आडवाणी के रथ पर थे. 15 साल गुजरात के मुख्यमंत्री भी थे. पीएम मोदी बताते हैं कि वे एमए भी किए हैं. पूरा जोड़ लिया जाए तो उम्र 150 के ऊपर हो जाएगी. उनकी डिग्री किसी स्कूल में है भी कि नहीं, पता नहीं.”

सबसे बड़ी जांच एजेंसी से कराई जाए हेलिकॉप्टर हादसे की जांच

ओपी राजभर ने CDS बिपिन रावत के हेलिकॉप्टर हादसे की जांच देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी से कराने की मांग की. उन्होंने कहा कि सीबीआई से जांच न कराई जाए, क्योंकि सीबीआई सरकार का तोता है. उन्होंने कहा कि 44 जवान शहीद हुए, लेकिन आज तक उसकी जांच नहीं हो सकी. 21 हजार करोड़ की हेरोइन अडानी के पोर्ट पर पकड़ी गई, उसकी भी जांच नहीं हुई. राफेल की फाइल भी अलमारी से चुरा ले गए. उन्होंने कहा कि यह दुखद घटना है, लेकिन जिस तरह के बयान आ रहे हैं, उसके मुताबिक जांच होनी चाहिए, तभी दूध का दूध और पानी का पानी हो सकेगा.

[ad_2]

Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments