Sunday, June 26, 2022
HomeTrending Newsरामपुर: 49 साल से चल रही लड़ाई का अंत! नवाब खानदान की...

रामपुर: 49 साल से चल रही लड़ाई का अंत! नवाब खानदान की 2600 करोड़ की प्रॉपर्टी का बंटवारा

[ad_1]

स्टोरी हाइलाइट्स

  • 49 साल से चली आ रही लड़ाई का हुआ अंत
  • 10 नवाबों ने अपनी हुकूमत की थी यहां पर

उत्तर प्रदेश के रामपुर की अदालत ने 49 साल पुराने नवाब खानदान के बंटवारे में फैसला सुना दिया है. लिहाजा सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देश पर 18 पक्षकारों के बीच शरीयत के मुताबिक 2600 करोड़ की चल-अचल संपत्ति का बंटवारा हुआ है. इसमें पांच बड़ी चल संपत्तियों के अलावा कई अचल संपतिया भी शामिल हैं.

रामपुर ब्रिटिश शासन काल के दौरान रियासत था. 1774 ईस्वी में इसे नवाब फैज उल्ला खान ने बरेली जनपद के आंवला से आकर बसाया था. भारत में रियासत के विलय होने तक 10 नवाबों ने यहां हुकूमत की थी. आजादी के बाद अंतिम नवाब रजा खान के समय में उनके बड़े बेटे नवाब मुराद अली खान को इस रियासत का युवराज घोषित किया गया था. लेकिन आजादी के बाद यह पहली रियासत थी जो भारत गणराज्य में विलय हो गई. इस संपत्ति के बंटवारे को लेकर नवाब खानदान के 18 वारिसान अपना-अपना अधिकार जताते हुए कोर्ट की शरण में पहुंच गए. 49 साल से चली आ रही इस लड़ाई लगभग अंत हो चुका है. 

आजादी के बाद नवाब रजा अली खान ने अपनी रियासत रामपुर को भारत गणराज्य में विलय कर दिया था. समझौते के तहत उनके हिस्से में यहां की कई बड़ी संपत्तियां आई थीं. इनमें चल संपत्ति में कोठी खास बाग, कोठी लखीबाग, कोठी बेनजीर, नवाब रेलवे स्टेशन और नवाबों वाला कुंडा के अलावा अचल संपत्ति जिनमें हथियारों का जखीरा, पुरानी पेंटिंग, जीवन शैली में इस्तेमाल होने वाले बर्तन शामिल हैं. 2600 करोड़ रुपए की कीमत की इस संपत्ति का आकलन जिला जज की अदालत ने किया था. 

किस संपत्ति की कितनी कीमत लगी है

बता दें कि कोठी खास बाग की कुल कीमत 1435 करोड़, लखीबाग कोठी की कीमत 721 करोड़, कोठी बेनजीर, नवाब रेलवे स्टेशन और नवाबों वाला कुंडा की कीमत 432 करोड़ के साथ ही अचल संपत्ति में 1 हजार हथियारों के जखीरे के अलावा पेंटिंग आदि की कीमत 64 करोड़ होने का आकलन किया गया है.

ये हैं नवाब के परिवारम में शामिल

रामपुर रियासत के अंतिम नवाब रजा अली खान की 2600 करोड़ की कीमत की इस प्रॉपर्टी को 18 पक्षकारों के बीच में शरीयत के हिसाब से उनके हिस्से तय कर दिए गए हैं. नवाब रजा अली खान के तीन बेटे नवाब मुर्तजा अली खान, नवाब जुल्फिकार अली खान और नवाब आबिद रजा खान के अलावा उनकी कई बेटियां थीं. जिनके वारिसान मौजूद हैं. वही उनकी एक बेटी मेहरून्निसा पाकिस्तान के पूर्व एयर मार्शल अब्दुल रहीम खान की पत्नी हैं. 
 

[ad_2]

Source link

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments